CTC और ग्रॉस सैलरी(सकल वेतन) में क्या अंतर है ?

0
205

वेतन(सैलरी) एक आवधिक भुगतान है जो एक व्यक्ति को कंपनी से कार्य के बदले में प्राप्त होता है। एक कर्मचारी, जब रोजगार मांगता है, तो वह हमेशा सीटीसी(CTC), या कॉस्ट टू कंपनी और सकल वेतन(Gross Salary) की ओर देखता है। सीटीसी और सकल वेतन के बीच का अंतर के लिए यह पोस्ट पूरा पढ़े ।

कॉस्ट ऑफ़ कंपनी या CTC

  • कॉस्ट ऑफ़ कंपनी या CTC वह लागत है जो किसी कर्मचारी को काम पर रखने पर कंपनी द्वारा लगाई जाती है।
  • सीटीसी में कई अन्य तत्व शामिल हैं और हाउस रेंट अलाउंस (HRA), प्रोविडेंट फंड (PF), और मेडिकल इंश्योरेंस जैसे अन्य भत्तों में से एक है जो मूल वेतन में जोड़ा जाता है।
  • इसे सरल शब्दों में कहें, तो CTC मूल रूप से एक कर्मचारी की सेवाओं को काम पर रखने और बनाए रखने पर एक कंपनी का खर्च है।

उद्धरण

उदाहरण के लिए माकन लीजिये आपका सीटीसी 8 लाख है, जब आप आगे इस राशि को तोड़ते है तो इसके कही विभाजन होते है जैसे की

  • ग्रॉस सैलरी
  • डिडक्शन
  • इन्शुरन्स आदि

तो आपका यही सवाल होगा की हमारे खाते में कितनी सैलरी या वेतन आएगा?

आपका सालाना CTC 600000 है उस मेसे आपका PF और भी किसी तरह की कोई कटौती (डिडक्शन) हटाए
उद्धरण के लिए मान लीजिये 3500 हर माह कट ते है और साल में 12 महीने होते है तो
(3500 x 12 = 42000) 

600000 – 42000 = 558000

558000 ÷ 12 = 46500 प्रति माह

इतना वेतन हर माह आपके खाते में आएगा

ना की 600000 ÷ 12 = 50000

बहुत से लोग यह गलती कर देते की CTC को 12 से भाग कर देते जो की गलत है |

सकल वेतन या gross salary  

सकल वेतन वह वेतन है जो कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) है और लागत से कंपनी (CTC) से घटाया जाता है। इसे सरल शब्दों में कहें, तो सकल वेतन करों या अन्य कटौती की कटौती से पहले भुगतान की गई राशि है और बोनस, समय-समय पर वेतन, अवकाश वेतन, और अन्य अंतरों को मिलाकर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here