Thiruvananthapuram: Lakhs Of Kerala School Students To Take Exams From Today Amid Lockdown – देश में स्कूल बंद, लेकिन केरल में शुरू हुई परीक्षाएं, छात्रों को मास्क लगाना अनिवार्य

0
36


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, तिरुवनंतपुरम
Updated Tue, 26 May 2020 10:11 AM IST

ख़बर सुनें

कोरोना वायरस के चलते देशभर में स्कूलों और कॉलेजों समेत सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखा गया है। वहीं, केरल में स्कूलों को फिर से खोला जा रहा है। केंद्र सरकार से अनुमति मिलने के बाद मंगलवार को राज्य में लाखों छात्र-छात्राएं ‘सेकेंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट’ या एसएसएलसी (10वीं कक्षा) और ‘हायर सेकेंडरी स्कूल सर्टिफिकेट’ (11वीं और 12वीं कक्षा) की परीक्षा दे रहे हैं।

केरल स्कूल परीक्षाओं को करवाने वाला पहला राज्य है, जहां अगले पांच दिनों तक 10वीं से 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को कराया जा रहा है। गौरतलब हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोविड-19 को रोकने के लिए मार्च महीने से ही लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। 

केरल में परीक्षा देने वाले 10 लाख छात्रों में, 1500 छात्र तमिलानाडु और कर्नाटक जैसे दूसरे राज्यों के हैं। कोविड-19 से निपटने के लिए केरल की देशभर में प्रशंसा की जा रही है। राज्य ने छात्रों के तापमान की जांच करने के लिए 5000 इंफ्रारेड थर्मामीटर की व्यवस्था की है। अन्य संगठनों के बीच राष्ट्रीय सेवा योजना पांच दिनों के लिए छात्रों को 25 लाख से अधिक मास्क प्रदान करेगी। 

विद्यालय में प्रवेश से पहले छात्रों के तापमान की जांच की गई। उन्हें हाथों को साफ करने के लिए सैनिटाइजर दिया गया। इसके बाद ही उन्हें परीक्षा कक्ष में जाने की अनुमति दी गई। छात्रों के लिए मास्क लगाना अनिवार्य है। इसके अलावा उन्हें सामाजिक दूरी के नियमों का पालन भी करना होगा। 

अधिकतर छात्र लगभग दो महीनों बाद अपने दोस्तों से मिल रहे हैं। हालांकि, उन्हें सभी की सुरक्षा के लिए सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए पैम्फलेट दिए गए हैं। वहीं, कोरोना से सुरक्षा के लिए अध्यापकों और अन्य स्टाफ को मास्क और ग्लव्स मुहैया कराए गए हैं। 

बता दें कि, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 6,535 नए मामले सामने आए हैं और 146 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 1,45,380 हो गई है, जिनमें से 80,722 सक्रिय मामले हैं, 60,491 लोग ठीक हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और अब तक 4167 लोगों की मौत हो चुकी है।  
 

 

कोरोना वायरस के चलते देशभर में स्कूलों और कॉलेजों समेत सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखा गया है। वहीं, केरल में स्कूलों को फिर से खोला जा रहा है। केंद्र सरकार से अनुमति मिलने के बाद मंगलवार को राज्य में लाखों छात्र-छात्राएं ‘सेकेंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट’ या एसएसएलसी (10वीं कक्षा) और ‘हायर सेकेंडरी स्कूल सर्टिफिकेट’ (11वीं और 12वीं कक्षा) की परीक्षा दे रहे हैं।

केरल स्कूल परीक्षाओं को करवाने वाला पहला राज्य है, जहां अगले पांच दिनों तक 10वीं से 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को कराया जा रहा है। गौरतलब हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोविड-19 को रोकने के लिए मार्च महीने से ही लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। 

केरल में परीक्षा देने वाले 10 लाख छात्रों में, 1500 छात्र तमिलानाडु और कर्नाटक जैसे दूसरे राज्यों के हैं। कोविड-19 से निपटने के लिए केरल की देशभर में प्रशंसा की जा रही है। राज्य ने छात्रों के तापमान की जांच करने के लिए 5000 इंफ्रारेड थर्मामीटर की व्यवस्था की है। अन्य संगठनों के बीच राष्ट्रीय सेवा योजना पांच दिनों के लिए छात्रों को 25 लाख से अधिक मास्क प्रदान करेगी। 

विद्यालय में प्रवेश से पहले छात्रों के तापमान की जांच की गई। उन्हें हाथों को साफ करने के लिए सैनिटाइजर दिया गया। इसके बाद ही उन्हें परीक्षा कक्ष में जाने की अनुमति दी गई। छात्रों के लिए मास्क लगाना अनिवार्य है। इसके अलावा उन्हें सामाजिक दूरी के नियमों का पालन भी करना होगा। 

अधिकतर छात्र लगभग दो महीनों बाद अपने दोस्तों से मिल रहे हैं। हालांकि, उन्हें सभी की सुरक्षा के लिए सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए पैम्फलेट दिए गए हैं। वहीं, कोरोना से सुरक्षा के लिए अध्यापकों और अन्य स्टाफ को मास्क और ग्लव्स मुहैया कराए गए हैं। 

बता दें कि, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 6,535 नए मामले सामने आए हैं और 146 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 1,45,380 हो गई है, जिनमें से 80,722 सक्रिय मामले हैं, 60,491 लोग ठीक हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और अब तक 4167 लोगों की मौत हो चुकी है।  
 

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here