Passengers Started Arriving At New Delhi Railway Station 10-12 Hours Before Special Trains Departure – सुबह से ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुंचने लगे थे यात्री, धूप में खड़े होकर गुजारा पूरा दिन

0
18


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 13 May 2020 09:47 AM IST

आठ विशेष ट्रेनों में लगभग 10 हजार यात्रियों ने किया सफर
– फोटो : एएनआई

ख़बर सुनें

नई दिल्ली से मंगलवार को विशेष ट्रेनों का संचालन किया गया। आठ ट्रेनों में लगभग 10 हजार यात्रियों ने सफर किया। पहली ट्रेन शाम चार बजे 1177 यात्रियों को लेकर बिलासपुर के लिए रवाना हुई। लेकिन स्टेशन पर सुबह से ही लोगों ने पहुंचना शुरू कर दिया था। 

पहली स्पेशल ट्रेन छूटने के समय से 10-12 घंटे पहले ही लोग स्टेशन पहुंचने लगे थे। इन लोगों ने दिनभर स्टेशन के बाहर 37 डिग्री पारे में खड़े होकर इंतजार किया। ट्रैफिक जाम से बचने के लिए कनॉट प्लेस और पहाड़गंज से स्टेशन के गेट पर ही गाड़ियों को रोक दिया गया।

करीब 3,500 लोग एक किमी पैदल चलकर स्टेशन पहुंचे। स्टेशन पर प्रवेश करने से पहले ही यात्रियों की दो जगह थर्मल स्क्रीनिंग की गई और उन्हें सीधा उनके कोच में भेजा गया। विशेष ट्रेनों से सफर के लिए मंगलवार शाम तक 1,69,039 टिकट बुक हो चुके थे।

वहीं, अहमदाबाद के साबरमती स्टेशन पर 25 लोगों को दिल्ली की ट्रेन में चढ़ने से रोका गया। स्क्रीनिंग के दौरान उन्हें तेज बुखार था। बता दें कि 22 मार्च को रेल सावाएं बंद होने से पहले भारतीय रेलवे रोज 13,000 यात्री ट्रेनें संचालित करता था, जिनमें करीब दो करोड़ लोग सफर करते थे।

सार

  • सुबह छह बजे से रेलवे स्टेशन पहुंचने लगे थे यात्री
  • आठ ट्रेनों में लगभग 10 हजार यात्रियों ने किया सफर 
  • 3500 लोग एक किमी पैदल चलकर पहुंचे स्टेशन 

विस्तार

नई दिल्ली से मंगलवार को विशेष ट्रेनों का संचालन किया गया। आठ ट्रेनों में लगभग 10 हजार यात्रियों ने सफर किया। पहली ट्रेन शाम चार बजे 1177 यात्रियों को लेकर बिलासपुर के लिए रवाना हुई। लेकिन स्टेशन पर सुबह से ही लोगों ने पहुंचना शुरू कर दिया था। 

पहली स्पेशल ट्रेन छूटने के समय से 10-12 घंटे पहले ही लोग स्टेशन पहुंचने लगे थे। इन लोगों ने दिनभर स्टेशन के बाहर 37 डिग्री पारे में खड़े होकर इंतजार किया। ट्रैफिक जाम से बचने के लिए कनॉट प्लेस और पहाड़गंज से स्टेशन के गेट पर ही गाड़ियों को रोक दिया गया।

करीब 3,500 लोग एक किमी पैदल चलकर स्टेशन पहुंचे। स्टेशन पर प्रवेश करने से पहले ही यात्रियों की दो जगह थर्मल स्क्रीनिंग की गई और उन्हें सीधा उनके कोच में भेजा गया। विशेष ट्रेनों से सफर के लिए मंगलवार शाम तक 1,69,039 टिकट बुक हो चुके थे।

वहीं, अहमदाबाद के साबरमती स्टेशन पर 25 लोगों को दिल्ली की ट्रेन में चढ़ने से रोका गया। स्क्रीनिंग के दौरान उन्हें तेज बुखार था। बता दें कि 22 मार्च को रेल सावाएं बंद होने से पहले भारतीय रेलवे रोज 13,000 यात्री ट्रेनें संचालित करता था, जिनमें करीब दो करोड़ लोग सफर करते थे।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here