Mumbai Police inspired post to thank healthcare workers On International Nurses Day – मुंबई पुलिस ने मुन्नाभाई के अंदाज़ में किया Nurses को सलाम, लिखा

0
28


मुंबई पुलिस ने 'मुन्नाभाई' के अंदाज़ में किया Nurses को सलाम, लिखा- 'मामू लोग को भी थैंक्यू बोलना...'

मुंबई पुलिस ने ‘मुन्नाभाई’ के अंदाज़ में किया देश की नर्सों को सलाम.

Happy Nurses Day 2020: हर साल 12 मई को अंतरराष्‍ट्रीय नर्स दिवस (International Nurses Day) मनाया जाता है. फ्लोरेंस नाइटिंगेल (Florence Nightingale) के जन्म के उपलक्ष्य में प्रत्येक वर्ष 12 मई को अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस (Nurses Day 2020) मनाया जाता है. इस कार्यक्रम की स्थापना 1974 में इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्सेस (ICN) द्वारा की गई थी और इसमें स्वास्थ्य सेवा में नर्सों की महत्वपूर्ण भूमिका पर भी प्रकाश डाला गया है. हर साल, लोग इन चिकित्सा कर्मियों को धन्यवाद देते हैं और यह वर्ष अलग नहीं है. वास्तव में, इस वर्ष लोग उन लोगों के प्रति धन्यवाद और कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए उत्सुक हैं, जो कोरोनोवायरस के खिलाफ इस युद्ध में फ्रंटलाइन पर लड़ रहे हैं, वो भी खुद को जोखिम में डालकर.

यह भी पढ़ें

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) भी उन नायकों को धन्यवाद कहने में शामिल हो गई जो दूसरों को सुरक्षित रखने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने मुन्ना भाई के अंदाज में नर्सों को सलाम किया और साथ ही डॉक्टर्स को भी थैंक्यू कहा. फोटो पोस्ट करते हुए मुंबई पुलिस ने कैप्शन में लिखा, ‘तुम बहुत मस्त काम करता है सिस्टर, थैंक्यू… मामू लोग को भी अपना थैंक्यू बोलना…’

इस पोस्ट को अब तक 8 हजार से ज्यादा लाइक्स मिल चुके हैं. साथ ही कई लोगों ने कमेंट कर नर्सों को थैंक्यू बोला है. बॉलीवुड एक्टर अभिषेक बच्चन ने भी इस पोस्ट को लाइक किया है. एक यूजर ने लिखा, ‘सभी सिस्टर्स और पुलिस कर्मियों को बड़ा थैंक्यू, जो इस कठिन वक्त में हमारे साथ हैं.’ कुछ लोगों को पुलिस का ये पोस्ट काफी पसंद आया. एक यूजर ने लिखा, ‘बहुत शानदार पोस्ट, आपको भी बहुत बड़ा थैंक्यू.’

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस 2020 की थीम

ICN की वेबसाइट के मुताबिक, इस साल नर्स दिवस की थीम ”विश्व स्वास्थ्य के लिए नर्सिंग है.” यह नर्सों और जनता को अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाने के लिए प्रोत्साहित करेगा. साथ ही यह लोगों को इसके प्रति जागरूक भी करेगा ताकि आने वाली पीढ़ी नर्स परिवार का एक हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित हों.

यहां आपको बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा पहले ही 2020 को नर्सों और मिड वाइव्ज के नाम कर दिया गया है. दरअसल, विश्वभर के कई देशों में फैले कोरोनावायरस के कारण लगातार अपनी ड्यूटी कर रहीं नर्स और मिडवाइव्ज को देखते हुए यह साल उनके नाम किया गया है. 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here