Mirem Village Of Arunachal Pradesh Makes Quarantine Huts With Separate Toilets For Migrant – अरुणाचल प्रदेश के मिरेम गांव में बिजली-पानी की व्यवस्था के साथ प्रवासियों के लिए बनाई गईं क्वारंटीन झोपड़ियां

0
30


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Mon, 08 Jun 2020 10:50 PM IST

क्वारंटीन झोपड़ियां
– फोटो : All India Radio

ख़बर सुनें

अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी सियांग जिले के मिरेम गांव में लोगों ने अलग शौचालय के साथ समुदाय संगरोध झोपड़ियों का निर्माण किया है। देश के अलग-अलग हिस्सों से वापस लौट रहे स्थानीय लोगों को कारंटीन करने के लिए बांस की इन खास झोपड़ियों को बनाया गया है। बांस से बनी इन 14 कारंटीन झोपड़ियों का निर्माण गांव से कुछ किलोमीटर दूर पर किया गया है।

इन झोपड़ियों में बिजली से लेकर पानी तक की सुविधा मुहैया कराई गई है। गांव के करीब 40 लोग बाहर रहते हैं और उनके वापस लौटने की उम्मीद है। ऐसे में वापस लौटने वालों को 28 दिनों तक यहां रहने और कोरोना टेस्ट नेगेटिव आने के बाद ही गांव में जाने दिया जाएगा।  

अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी सियांग जिले के मिरेम गांव में लोगों ने अलग शौचालय के साथ समुदाय संगरोध झोपड़ियों का निर्माण किया है। देश के अलग-अलग हिस्सों से वापस लौट रहे स्थानीय लोगों को कारंटीन करने के लिए बांस की इन खास झोपड़ियों को बनाया गया है। बांस से बनी इन 14 कारंटीन झोपड़ियों का निर्माण गांव से कुछ किलोमीटर दूर पर किया गया है।


इन झोपड़ियों में बिजली से लेकर पानी तक की सुविधा मुहैया कराई गई है। गांव के करीब 40 लोग बाहर रहते हैं और उनके वापस लौटने की उम्मीद है। ऐसे में वापस लौटने वालों को 28 दिनों तक यहां रहने और कोरोना टेस्ट नेगेटिव आने के बाद ही गांव में जाने दिया जाएगा।  



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here