Indian Railways Successfully Created A New World Standard By Successfully Operating Double Stack Container Train – भारतीय रेल ने पहली बार डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन का सफलतापूर्वक संचालन कर नया विश्व मानदंड बनाया

0
14


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Thu, 11 Jun 2020 08:36 PM IST

डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन
– फोटो : All India Radio

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

कोरोना की वजह से देशभर में कई चरणों में लगे लॉकडाउन की वजह से लगभग हर क्षेत्र बड़े स्तर पर प्रभावित हुआ और कई जगह काम भी ठप पड़ गए हैं। लेकिन इन सबके बीच भारतीय रेल ने कई तरह के कामों को सफलतापूर्वक पूरा किया और कई तरह के निर्माण कार्य भी किए।

अब भारतीय रेल ने एक और नया कीर्तिमान बनाया है। पश्चिम रेलवे के विद्युतीकृत क्षेत्र में ओवर हेड इक्विपमेंट क्षेत्र में पहली बार डबल-स्टैक कंटेनर ट्रेन को सफलतापूर्वक चलाकर भारत ने एक नया विश्व मानदंड बनाया है। इस ट्रेन का गुजरात के पालनपुर से बोटाद स्टेशन के बीच सफलतापूर्वक संचालन किया गया।

भारतीय रेल ने पहली बार उच्च वृद्धि ओवर हेड इक्विपमेंट (OHE) को चालू करके एक नया विश्व मानदंड बनाया है, इसमें तार की ऊंचाई 7.57 मीटर होती है।

रेलवे के मुताबिक, ‘यह जबरदस्त उपलब्धि पूरी दुनिया में अपनी तरह की पहली पहल है और यह भारतीय रेलवे के लिए एक नवीनतम हरित पहल के रूप में ग्रीन इंडिया के महत्वाकांक्षी मिशन को भी बढ़ावा देगी। इस उल्लेखनीय विकास के साथ, भारतीय रेलवे गर्व से ओएचई क्षेत्र में उच्च पहुंच के साथ डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन चलाने वाला पहला रेलवे बन गया है, जिसके संचालन को 10 जून, 2020 को गुजरात के पालनपुर और बोटाद स्टेशनों से सफलतापूर्वक शुरू किया गया था।’

गौरतलब है कि जब पूरा देश लॉकडाउन की वजह से ठप था, तब उस वक्त भारतीय रेलवे ने अपनी मालवाहक गाड़ियों की आवाजाही जारी रखी थी और इस दौरान देशभर में जरुरी सामानों की आपूर्ति निर्बाध रूप से जारी रखे हुए थी। अब जब भारतीय रेल ने डबल-डेकर मालवाहक ट्रेन का सफलतापूर्वक संचालन कर लिया है तो उम्मीद की जा रही है कि रेलवे को इससे काफी लाभ होगा।

कोरोना की वजह से देशभर में कई चरणों में लगे लॉकडाउन की वजह से लगभग हर क्षेत्र बड़े स्तर पर प्रभावित हुआ और कई जगह काम भी ठप पड़ गए हैं। लेकिन इन सबके बीच भारतीय रेल ने कई तरह के कामों को सफलतापूर्वक पूरा किया और कई तरह के निर्माण कार्य भी किए।

अब भारतीय रेल ने एक और नया कीर्तिमान बनाया है। पश्चिम रेलवे के विद्युतीकृत क्षेत्र में ओवर हेड इक्विपमेंट क्षेत्र में पहली बार डबल-स्टैक कंटेनर ट्रेन को सफलतापूर्वक चलाकर भारत ने एक नया विश्व मानदंड बनाया है। इस ट्रेन का गुजरात के पालनपुर से बोटाद स्टेशन के बीच सफलतापूर्वक संचालन किया गया।

भारतीय रेल ने पहली बार उच्च वृद्धि ओवर हेड इक्विपमेंट (OHE) को चालू करके एक नया विश्व मानदंड बनाया है, इसमें तार की ऊंचाई 7.57 मीटर होती है।

रेलवे के मुताबिक, ‘यह जबरदस्त उपलब्धि पूरी दुनिया में अपनी तरह की पहली पहल है और यह भारतीय रेलवे के लिए एक नवीनतम हरित पहल के रूप में ग्रीन इंडिया के महत्वाकांक्षी मिशन को भी बढ़ावा देगी। इस उल्लेखनीय विकास के साथ, भारतीय रेलवे गर्व से ओएचई क्षेत्र में उच्च पहुंच के साथ डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन चलाने वाला पहला रेलवे बन गया है, जिसके संचालन को 10 जून, 2020 को गुजरात के पालनपुर और बोटाद स्टेशनों से सफलतापूर्वक शुरू किया गया था।’

गौरतलब है कि जब पूरा देश लॉकडाउन की वजह से ठप था, तब उस वक्त भारतीय रेलवे ने अपनी मालवाहक गाड़ियों की आवाजाही जारी रखी थी और इस दौरान देशभर में जरुरी सामानों की आपूर्ति निर्बाध रूप से जारी रखे हुए थी। अब जब भारतीय रेल ने डबल-डेकर मालवाहक ट्रेन का सफलतापूर्वक संचालन कर लिया है तो उम्मीद की जा रही है कि रेलवे को इससे काफी लाभ होगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here