Capf Jawans Who Lost Their Lives From Corona Will Get Rs 15 Lakh In Addition To One Crore Rupees – कोरोना से जान गंवाने वाले सीएपीएफ के जवानों को एक करोड़ के अलावा मिलेंगे 15 लाख रुपये

0
18


डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sun, 31 May 2020 07:36 AM IST

ख़बर सुनें

ड्यूटी के दौरान कोरोना से जान गंवाने वाले केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) के जवानों के परिवारवालों को ‘भारत के वीर’ फंड से 15 लाख रुपये दिए जाएंगे। अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस फैसले को मंजूरी दी है। यह राशि ड्यूटी पर जान गंवाने के दौरान मिलने वाले एक करोड़ रुपये से अलग होगी।

गौरतलब है कि अब तक सीएपीएफ के आठ जवानों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है। इनमें सीआईएसएफ में चार, सीआरपीएफ और बीएसएफ में दो-दो जवानों ने जान गंवाई है। सीएपीएफ के तहत सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ और एसएसबी आती हैं।  

पाकिस्तान में फंसे गुजरात के 26 लोगों ने विदेश मंत्रालय से मांगी मदद

पाकिस्तान में फंसे गुजरात के 26 लोगों ने विदेश मंत्रालय से घर वापसी के लिए मदद मांगी है। ये सभी लोग गोधरा के रहने वाले हैं। इन लोगों ने 4 जून को अटारी वाघा बॉर्डर से देश वापसी के लिए गुहार लगाई है।

भारतीय उच्चायोग को लिखे पत्र में इन लोगों ने बताया कि फरवरी-मार्च में एक शादी में शामिल होने के लिए ये लोग कराची पहुंचे थे। लॉकडाउन लगने और उड़ानें रद्द होने के कारण ये वहां फंस गए। इन लोगों ने पत्र में विदेश मंत्रालय से 4 जून को अटारी बॉर्डर से भारत में प्रवेश कराने के लिए मदद मांगी है। इन्होंने सरकार से इस मामले में जल्द फैसला लेकर सूचित करने की गुहार लगाई है ताकि ये 2 जून को कराची से निकलकर 4 जून तक अटारी बॉर्डर पर पहुंच जाएं। इन लोगों ने अमृतसर से गोल्डन टेंपल एक्सप्रेस में 4 जून की टिकट भी बुक करा रखी है।

ड्यूटी के दौरान कोरोना से जान गंवाने वाले केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) के जवानों के परिवारवालों को ‘भारत के वीर’ फंड से 15 लाख रुपये दिए जाएंगे। अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस फैसले को मंजूरी दी है। यह राशि ड्यूटी पर जान गंवाने के दौरान मिलने वाले एक करोड़ रुपये से अलग होगी।

गौरतलब है कि अब तक सीएपीएफ के आठ जवानों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है। इनमें सीआईएसएफ में चार, सीआरपीएफ और बीएसएफ में दो-दो जवानों ने जान गंवाई है। सीएपीएफ के तहत सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ और एसएसबी आती हैं।  

पाकिस्तान में फंसे गुजरात के 26 लोगों ने विदेश मंत्रालय से मांगी मदद

पाकिस्तान में फंसे गुजरात के 26 लोगों ने विदेश मंत्रालय से घर वापसी के लिए मदद मांगी है। ये सभी लोग गोधरा के रहने वाले हैं। इन लोगों ने 4 जून को अटारी वाघा बॉर्डर से देश वापसी के लिए गुहार लगाई है।

भारतीय उच्चायोग को लिखे पत्र में इन लोगों ने बताया कि फरवरी-मार्च में एक शादी में शामिल होने के लिए ये लोग कराची पहुंचे थे। लॉकडाउन लगने और उड़ानें रद्द होने के कारण ये वहां फंस गए। इन लोगों ने पत्र में विदेश मंत्रालय से 4 जून को अटारी बॉर्डर से भारत में प्रवेश कराने के लिए मदद मांगी है। इन्होंने सरकार से इस मामले में जल्द फैसला लेकर सूचित करने की गुहार लगाई है ताकि ये 2 जून को कराची से निकलकर 4 जून तक अटारी बॉर्डर पर पहुंच जाएं। इन लोगों ने अमृतसर से गोल्डन टेंपल एक्सप्रेस में 4 जून की टिकट भी बुक करा रखी है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here