Andhra Pradesh High Court Issues Notice To 49 People Including Mp And Former Mla – आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने सांसद, पूर्व विधायक समेत 49 लोगों को जारी किया नोटिस

0
20


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अमरावती
Updated Wed, 27 May 2020 04:06 AM IST

ख़बर सुनें

आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के फैसलों के खिलाफ टिप्पणी करने के लिए वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद नंदीगम सुरेश और पूर्व विधायक अमांची कृष्ण मोहन सहित 49 लोगों को कोर्ट ने नोटिस जारी किया है। इस मामले को कोर्ट के संज्ञान में लाने वाले आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के वकील लक्ष्मी नारायण ने फोन पर मामले में हुई कार्रवाई की पुष्टि की।

नारायण ने मंगलवार को बताया कि वाईएसआरसीपी के सांसद नंदीगम सुरेश और पूर्व विधायक अमांची कृष्ण मोहन सहित 49 लोगों को नोटिस जारी किए गए हैं। इन नेताओं ने कथित तौर पर कुछ मामलों में हाई कोर्ट के फैसलों के खिलाफ टिप्पणी की थी। नारायण ने बताया कि सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर न्यायपालिका और न्यायाधीशों के खिलाफ प्रतिकूल टिप्पणी करने वालों को नोटिस जारी किए गए हैं।

वाईएसआरसीपी की अगुवाई वाली आंध्र प्रदेश सरकार कई मुद्दों पर राज्य के हाई कोर्ट में परेशानियों का सामना कर रही है। हाई कोर्ट ने पिछले महीने सरकारी स्कूलों में अंग्रेजी माध्यम शुरू करने के राज्य सरकार के आदेश को रद्द कर दिया था।

आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के फैसलों के खिलाफ टिप्पणी करने के लिए वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद नंदीगम सुरेश और पूर्व विधायक अमांची कृष्ण मोहन सहित 49 लोगों को कोर्ट ने नोटिस जारी किया है। इस मामले को कोर्ट के संज्ञान में लाने वाले आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के वकील लक्ष्मी नारायण ने फोन पर मामले में हुई कार्रवाई की पुष्टि की।

नारायण ने मंगलवार को बताया कि वाईएसआरसीपी के सांसद नंदीगम सुरेश और पूर्व विधायक अमांची कृष्ण मोहन सहित 49 लोगों को नोटिस जारी किए गए हैं। इन नेताओं ने कथित तौर पर कुछ मामलों में हाई कोर्ट के फैसलों के खिलाफ टिप्पणी की थी। नारायण ने बताया कि सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर न्यायपालिका और न्यायाधीशों के खिलाफ प्रतिकूल टिप्पणी करने वालों को नोटिस जारी किए गए हैं।

वाईएसआरसीपी की अगुवाई वाली आंध्र प्रदेश सरकार कई मुद्दों पर राज्य के हाई कोर्ट में परेशानियों का सामना कर रही है। हाई कोर्ट ने पिछले महीने सरकारी स्कूलों में अंग्रेजी माध्यम शुरू करने के राज्य सरकार के आदेश को रद्द कर दिया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here