Akhil Bhartiya Astrology Council Mourns The Death Of Bejan Daruwala – अखिल भारतीय ज्योतिष परिषद ने जताया बेजान दारुवाला के निधन पर शोक

0
21


डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Fri, 29 May 2020 10:20 PM IST

ख़बर सुनें

अखिल भारतीय ज्योतिष परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष और जाने माने ज्योतिषाचार्य पंडित के ए दुबे पद्मेश ने बेजान दारुवाला के निधन पर गहरा शोक जताया है। उन्होंने कहा है कि बेजान दारुवाला ने अपनी भविष्यवाणियों और गणनाओं की बदौलत भारतीय ज्योतिष पद्धति को दुनिया भर में फैलाया और खासकर अंक ज्योतिष की देश उनके योगदान को कभी नहीं भूल सकता।

पंडित पद्मेश ने कहा है कि बेजान दारुवाला सीधी भविष्यवाणियां करते थे और घुमा फिरा कर बात नहीं करते थे। ग्रहों की चाल और दशाओं के आधार पर उनकी गणनाएं बेहद सटीक होती थीं और पूरे आत्मविश्वास के साथ वह बड़ी से बड़ी शख्सियत के बारे में अपनी राय जाहिर करते थे। दुनिया के तमाम अर्थशास्त्री भी उनसे राय लिया करते थे और अमेरिका में उनकी लोकप्रियता काफी ज्यादा थी।

अखिल भारतीय ज्योतिष परिषद की ओर से बेजान दारुवाला को श्रद्धांजलि देते हुए पद्मेश ने कहा कि कोरोना संकट के इस दौर में इन दिनों हर वयोवृद्ध व्यक्ति के निधन को इस वायरस से जोड़कर देखा जाता है जो कि गलत है। जब उनके परिवार के लोग इस बात से इनकार करते हैं कि वो पिछले एक हफ्ते से निमोनिया के शिकार थे, न कि कोरोना पॉजिटिव थे, ऐसे में उनके निधन को कोरोना से जोड़ना सही नहीं है। 

सार

  • पंडित के ए दुबे पद्मेश ने बताया ज्योतिष जगत की बड़ी क्षति

विस्तार

अखिल भारतीय ज्योतिष परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष और जाने माने ज्योतिषाचार्य पंडित के ए दुबे पद्मेश ने बेजान दारुवाला के निधन पर गहरा शोक जताया है। उन्होंने कहा है कि बेजान दारुवाला ने अपनी भविष्यवाणियों और गणनाओं की बदौलत भारतीय ज्योतिष पद्धति को दुनिया भर में फैलाया और खासकर अंक ज्योतिष की देश उनके योगदान को कभी नहीं भूल सकता।

पंडित पद्मेश ने कहा है कि बेजान दारुवाला सीधी भविष्यवाणियां करते थे और घुमा फिरा कर बात नहीं करते थे। ग्रहों की चाल और दशाओं के आधार पर उनकी गणनाएं बेहद सटीक होती थीं और पूरे आत्मविश्वास के साथ वह बड़ी से बड़ी शख्सियत के बारे में अपनी राय जाहिर करते थे। दुनिया के तमाम अर्थशास्त्री भी उनसे राय लिया करते थे और अमेरिका में उनकी लोकप्रियता काफी ज्यादा थी।

अखिल भारतीय ज्योतिष परिषद की ओर से बेजान दारुवाला को श्रद्धांजलि देते हुए पद्मेश ने कहा कि कोरोना संकट के इस दौर में इन दिनों हर वयोवृद्ध व्यक्ति के निधन को इस वायरस से जोड़कर देखा जाता है जो कि गलत है। जब उनके परिवार के लोग इस बात से इनकार करते हैं कि वो पिछले एक हफ्ते से निमोनिया के शिकार थे, न कि कोरोना पॉजिटिव थे, ऐसे में उनके निधन को कोरोना से जोड़ना सही नहीं है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here