रियो में जिनसे है पदक की उम्मीद

0
39


लिएंडर पेसइमेज कॉपीरइट
AP

2016 के रियो ओलंपिक खेलों के लिए भारतीय टीम रवाना हो चुकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय दल की रवानगी से पहले उनसे मुलाकात कर उन्हें अपनी शुभकामनाएं दी हैं.

ये खेल 5 से 21 अगस्त के बीच ब्राज़ील के रियो डि जेनेरियो शहर में आयोजित हो रहे हैं.

आइए नज़र डालते हैं कि इन खेलों में भारत के लिहाज से किन खिलाड़ियों पर सबकी नज़र रहेगी, कौन दिला सकता है भारत को ओलंपिक का पदक?

लिएंडर पेस- भारत की ओर से सातवीं बार लिएंडर पेस ओलंपिक खेलों में हिस्सा ले रहे हैं.

पेस पुरुषों के डबल्स में रोहन बोपन्ना के साथ भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे.

हालांकि टीम की घोषणा के पहले खिलाड़ियों के बीच विवाद खुलकर सामने आया और बोपन्ना ने साकेत मायनेनी के साथ खेलने की इच्छा ज़ाहिर की थी.

इमेज कॉपीरइट
Getty Images

लेकिन भारतीय टेनिस संघ ने बोपन्ना की मांग खारिज़ करते हुए उम्मीद जताई कि भारत के लिए ये जोड़ी पदक ला सकती है.

लिएंडर पेस ने इसी महीने की शुरुआत में फ्रेंच ओपन का मिक्स डबल्स खिताब अपने नाम किया था और वो अच्छे फॉर्म में नज़र आ रहे हैं.

पेस भारत की ओर से अलटलांटा ओलंपिक में कांस्य पदक जीत चुके हैं, वो भी ठीक 20 साल पहले, 1996 में.

इमेज कॉपीरइट

नरसिंह यादव- भारत के पहलवान नरसिंह यादव से शायद इस बार ओलंपिक में सबसे ज़्यादा उम्मीद है.

पिछले साल ही भारत के पहलवान नरसिंह पंचम यादव ने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप प्रतियोगिता में कांस्य पदक अपने नाम किया है.

नरसिंह ने ये मुकाबला पुरुषों की 74 किलोग्राम फ़्रीस्टाइल वर्ग में जीता था. इसके साथ ही उन्होंने ओलंपिक के लिए भारत की एक जगह पक्की कर दी थी.

नरसिंह यादव इसके अलावा 2010 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीत चुके हैं और साल 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों में 74 किलो भार वर्ग में कांस्य पदक जीत चुके हैं.

इमेज कॉपीरइट
AFP GETTY

साइना नेहवाल- भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल पर भी रियो ओरंपिक में बड़ी उम्मीद लगी रहेगी.

पिछले महीने साइना नेहवाल ने चीन की सुन यू को हराकर ऑस्ट्रेलियन ओपन सुपर सीरीज़ अपने नाम किया था.

साइना फिलहाल बेहतरीन फ़ॉर्म में नज़र आ रही हैं.

हैदराबाद की रहने वाली 26 वर्षीय साइना ने लंदन ओलंपिक में भी कांस्य पदक जीता था.

इमेज कॉपीरइट

विकास कृष्णन- विकास कृष्णन 75 भार वर्ग के मुक्केबाजडी में रियो ओलंपिक में हिस्सा लेंगे.

विकास कृष्णन ने साल 2011 में अज़रबैजान में हुई विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था.

विकास ने साल 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता था. लंबे समय से उनकी नज़र ओलंपिक में पदक जीतने पर है.

इमेज कॉपीरइट
Getty

जीतू राय- अज़रबैजान के बाकू में आईएसएसएफ विश्व कप प्रतियोगिता में 10 मीटर एयर पिस्टल में सिल्वर मेडल जीतकर जीतू राय की नज़र अब ओलंपिक पर है.

जीतू राय ने पिछले तीन साल में छठी बार विश्व कप पदक जीता है. रियो ओलंपिक में निशानेबज़ी में भारत को उनसे काफ़ी उम्मीद है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप

यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें

फ़ेसबुक और

ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here